PPE Full Form in Hindi | PPE Ka Full Form क्या है?

दोस्तों, आज की पोस्ट में हम जानेंगे PPE ka full form क्या है (PPE full form in Hindi), पीपीई किट क्यों जरुरी है, पीपीई किट कैसे हमारी रक्षा करती है इसके अलावा PPE से जुड़ी कई बातो की जानकरी हम आपको देंगे, सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए पोस्ट को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

पिछले कुछ समय से PPE का जिक्र अक्सर हो रहा है खासकर तबसे जबसे कोरोना वायरस का दौर शुरू हुआ। इसके बारे मे बहुत से लोगों को अभी भी जानकारी नहीं है इसलिए आज हमारे पोस्ट का विषय भी हमने इसे चुना है।

यहाँ आपको PPE Full Form in Hindi से लेकर वो सारी जानकारिया मिलेगी जिसके बारे मे अक्सर सवाल पूछे जाते है। तो चलिए सबसे पहले हम आपको यही बताते है कि PPE ka Full Form क्या है?

PPE Full Form in Hindi (PPE का फुल फॉर्म क्या है?)

PPE Full Form in Hindi

PPE का फुल फॉर्म पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट है जिसे हिंदी में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण कहा जाता है। 

P – Personal ( पर्सनल)

P – Protective ( प्रोटेक्टिव)

E – Equipment ( इक्विपमेंट)

इस किट के अंतर्गत सुरक्षा की सारी चीजें शामिल की गई है।

पीपीई (PPE) किट का उपयोग हमारे देश में तब से किया जाने लगा है जबसे कोरोना वायरस भारत में आया है। इससे पहले एक भी पीपीई किट का निर्माण हमारे देश में नहीं हुआ था। लेकिन अब हर दिन दो लाख से अधिक पीपीई किट का निर्माण किया जा रहा है। इस वजह से यह जानना बेहद जरूरी हो जाता है कि PPE Kit क्या है और क्यों जरूरी है।

तो चलिए पहले PPE Kit की जरुरत पर एक नज़र डालते है और जानने का प्रयास करते है कि ये किस प्रकार हमारे काम आती है।

PPE KIT क्यू जरूरी हैं?

पीपीई किट अर्थात पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट जो खुद की सुरक्षा के लिए तैयार की गई है यह आज के समय में बेहद जरूरी है। पीपीई किट का निर्माण कोरोना वायरस के काल मे किया गया था ताकि कोरोना संक्रमण से बचा जा सके।

इस किट के अंदर बहुत सारे सुरक्षा के समान मौजूद होते हैं जिनसे हम किसी भी प्रकार के वायरस से बच कर रह सकते हैं।

इस किट में उपस्थित उपकरणों को इस प्रकार बनाया जाता है कि किसी भी प्रकार का वायरस इस किट के अंदर जा ही नहीं सकता, इसे पहन कर किसी भी तरह की गंभीर बीमारी या खतरनाक वायरस (जैसे Covid) से बचा जा सकता है।

पीपीई किट की जरूरत ज्यादातर डॉक्टर, नर्स, वार्डबॉय आदि को है क्योंकि करोना काल में यही लोग मरीजों की देखभाल कर रहे हैं इसलिए इनके संक्रमित होने के चांसेस काफी ज्यादा होते हैं अर्थात डॉक्टर और नर्सों की सुरक्षा के लिए विशेष रूप से इस कीट का निर्माण किया जा रहा है ताकि वो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित ना हो जाए।

लेकिन क्या पीपीई किट का इस्तेमाल केवल डॉक्टर और नर्स आदि लोग ही कर सकते हैं? इस तरह के सवाल भी हमारे दिमाग में आते हैं तो आइए हम आपको इस सवाल का जवाब भी देते है।

PPE कीट को कौन-कौन इस्तेमाल कर सकता हैं?

पीपीई किट का इस्तेमाल केवल डॉक्टर या मेडिकल स्टॉफ ही नहीं आम नागरिक भी कर सकते है।

पीपीई किट का इस्तेमाल कोरोना वायरस के दौर में लंबी यात्रा करने वाले लोग भी कर रहे हैं फिर चाहे वह ट्रेनों से यात्रा करें या हवाई मार्ग से यात्रा करें।

अपनी स्वयं की सुरक्षा के लिए इन चीजों का इस्तेमाल आम नागरिकों द्वारा किया जाने लगा है जिससे यह पता चलता है कि आम नागरिक भी इसके महत्व को समझते हैं। इसलिए इन चीजों को आसानी से ऑनलाइन माध्यम से खरीदा जा सकता है। इन कीटों के अंदर आपको बॉडिसूट, फेस शिल्ड, मास्क, हैंड ग्लव्स के साथ-साथ कई चीजें मिल जाती है जिसके बारे में हमने अगले सेक्शन मे विस्तार से बताया है-

PPE किट में क्या-क्या आता हैं ? (Components of PPE Kit) 

जैसा कि आपने पहले ही जान लिया है कि पीपीई किट के अंतर्गत सारे सुरक्षात्मक चीज़ें शामिल है जो स्वयं की सुरक्षा के लिए आवश्यक है। इसके अंतर्गत किसी भी तरह के वायरस से बचने के लिए पावरफुल कवच होते हैं जो हर तरह के वायरस से आप को बचाने में सक्षम होता है।

इतना ही नहीं इस किट के अंतर्गत मास्क, ग्लव्ज, गाउन रबड़ के जूते, फेस शील्ड (फेस कवर), चश्मा, शू कवर, हेड कवर (हेलमेट), PPE Kit डिस्पोजल बैग, सर्जिकल कैप, आदि चीजें मौजूद होती है।

इन सारी चीजों का इस्तेमाल मेडिकल फील्ड में किया जाता है ताकि गंभीर बीमारियों से खुद को बचा कर रखा जा सके।

ऐसी कई सारी बीमारियां होती है जो एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलती है और उस समय इस PPE Kit में उपस्थित उपकरण ही संक्रमण फैलने से रोकते हैं।

PPE किट को कितने लेवेल के लिए बनाया गया हैं?

पीपीई किट को 4 लेवल में तैयार किया जाता है जिसे चार भागों में बांटा गया है और ये भाग है- लेवल ए, लेवल बी, लेवल सी और लेवल डी।

हमारे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए अभी “लेवल ए” पीपीई किट का ही इस्तेमाल किया जा रहा है जिसमें हेड कवर से लेकर शू कवर तक को भी प्रोटेक्टिव बनाए जाते हैं। पीपीई किट के सारे लेवल, वायरस को हमारे शरीर तक पहुंचने से रोकते हैं और इसी वजह से इसका इस्तेमाल अभी के समय में काफी ज्यादा किया जा रहा है।

पीपीई सूट कैसे रक्षा करता है?

पीपीई सूट किस तरह हमारी रक्षा करता है? ये सवाल जरूर आपके मन में आया होगा लेकिन इसका जवाब बड़ा ही आसान है। पीपीई सूट डॉक्टर या नर्सों को एक सुरक्षा कवच प्रदान करता है और खासकर रेस्पिरेट्री सिस्टम को सुरक्षा देता है।

जैसा कि आप जानते हैं कि कोरोना वायरस रेस्पिरेट्री सिस्टम से फैलता है इसलिए इसकी सुरक्षा ज्यादा जरूरी होती है। पीपीई सूट कुछ ऐसे मटेरियल से बनाया जाता है जिसकी सतह पर किसी भी प्रकार का वायरस ज्यादा देर तक नहीं रह पाता।

जब कोई मरीज छीकता या फिर खासता है और उसके ड्रॉपलेट्स वायु में फैल जाते हैं तो मरीज के संपर्क मे रहने वाले भी वायरस के शिकार हो जाते है। अगर मरीज के संपर्क मे रहने वाले ने पीपीई सूट को पहन रखा है तो उस व्यक्ति के शरीर तक ड्रॉपलेट्स नहीं पहुंच पाते और वह व्यक्ति सन्क्रमित होने से बच जाता है। 

इस तरह PPE Suit रक्षा करता है।

PPE के अन्य फुल फॉर्म
PPE Full Form in Accounts/FinanceProperty, Plant and Equipment
PPE Full Form in EngineeringPersonal protective equipment
PPE Full Form in EconomicsPolitics, Philosophy and Economics
PPE Full Form in WNSPersonal protective equipment

PPE Kit से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)
पीपीई से आप क्या समझते हैं?

पीपीई का मतलब पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट होता है, पीपीई किट का उपयोग संक्रमण से बचने के लिए किया जाता है।

पीपीई का उपयोग किस लिए किया जाता है?

पीपीई किट का उपयोग किसी भी तरह के संक्रमण से बचने के लिए किया जाता है। इस किट में मास्क, हेड कवर, ग्लव्ज, गाउन रबड़ के जूते, फेस शील्ड, चश्मा, शू कवर, PPE Kit डिस्पोजल बैग, सर्जिकल कैप आदि चीजें मौजूद होती है।

निष्कर्ष – PPE Full Form in Medical

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको पीपीई किट की सम्पूर्ण जानकारी दी है PPE ka full form क्या है (PPE full form in Hindi), पीपीई किट क्यों जरुरी है, पीपीई किट में क्या-क्या आता है और भी बहुत सी जुरुरी बाते हमने आपके साथ साझा की हैं। उम्मीद करते हैं यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी और इससे पीपीई किट के बारे में आपको काफी कुछ जानने के लिए मिला होगा।

अगर आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, हम जल्द से जल्द आपके कमेंट का जवाब देने की कोशिश करेंगे। बाकी आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करके सभी को इसकी जानकारी जरुर दें।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Comment

Share via
Copy link