MCD Full Form in Hindi | MCD का फुल फॉर्म क्या है?

MCD Full Form in Hindi – आज के समय में आप जब भी न्यूज़पेपर या फिर टीवी पर न्यूज़ देखते हैं तो जगह-जगह आपको शॉर्ट फॉर्म देखने को मिलती है और काफी ऐसी शॉर्ट फॉर्म है जो कि हमें बार-बार सुनने को मिलती है जिस कारण से हमारे मन में इच्छा जाग जाती है कि इस शॉर्ट फॉर्म का आखिर फुल फॉर्म यानी पूरा नाम क्या होगा, इसी प्रकार की एक शोर्ट फॉर्म है MCD, MCD का नाम आपने बहुत बार अपने आसपास या फिर न्यूज़पेपर या न्यूज़ के अंदर देखा होगा।

बार-बार एक ही नाम सुनने पर उसके बारे में पूरी जानकारी जानने की इच्छा जरूर होती है तो अगर आपको भी एमसीडी के बारे में पूरी जानकारी हासिल करनी है तो आप बिल्कुल सही आर्टिकल पर आए हैं क्योंकि इस आर्टिकल में हम जानेंगे एमसीडी का फुल फॉर्म क्या है, और एमसीडी से रिलेटेड हर एक जानकारी आपको इस आर्टिकल में देने की कोशिश करेंगे।

क्योंकि अकेली फुल फॉर्म से हमें इतनी जानकारी नहीं मिलती, इसलिए इस लेख में हमने आपको MCD की पूरी जानकारी देने की कोशिश की है अगर आपको एमसीडी की पूरी जानकारी हासिल करनी है तो आर्टिकल को पूरा अंत तक जरूर पढ़ें। 

MCD Full Form in Hindi (MCD Ka Full Form क्या है?)

MCD full form in Hindi

तो आइए दोस्तों बढ़ते हैं आज के हमारे सबसे मुख्य पॉइंट की तरफ कि एमसीडी का फुल फॉर्म क्या होता है? अगर आपको एमसीडी का फुल फॉर्म जानना है तो हम आपको बताएंगे कि एमसीडी का फुल फॉर्म क्या होता है, एमसीडी का फुल फॉर्म होता है मुंसिपल कॉरपोरेशन ऑफ दिल्ली (Municipal Corporation Of Delhi) जिसे हिंदी में दिल्ली नगर निगम कहा जाता है।

अब आपको एमसीडी का फुल फॉर्म तो पता चल गया लेकिन अभी भी इससे जुड़े बहुत सारे सवाल आपके मन में उठ रहे होंगे जैसे कि एमसीडी क्या है? इसके कार्य क्या है? इसकी स्थापना कब हुई और भी बहुत कुछ।

तो आइए इसके बारे में विस्तार से जानने का प्रयास करते हैं।

MCD Kya Hai?

एमसीडी अर्थात मुन्सिपल कॉरपोरेशन ऑफ दिल्ली जिसे हिंदी में दिल्ली नगर निगम कहते हैं। यह एक नगर निगम है जो भारत के राज्य दिल्ली में नौ जिलों पर नियंत्रण रखने का कार्य करती है। यह एक ऐसा निकाय है जिसने दिल्ली के 11 जिलों में से 8 जिलों को हमारे भारत के केंद्र शासित प्रदेश में संचालित किया था और राजधानी क्षेत्र दिल्ली के तीन नगर पालिकाओं में से एक था। 

एमसीडी ने 11 मिलियन से अधिक लोगों को कई प्रकार की सेवाएं उपलब्ध कराई है। MCD के अंतर्गत अब 3 नगर निगम शामिल कर दिए गए हैं जिनमें उत्तरी दिल्ली नगर निगम, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम और पूर्वी दिल्ली निगम शामिल किए गए हैं।

दिल्ली एमसीडी को दुनिया भर के सबसे बड़े नगर निगमों में से एक गिना जाता है जो 1397 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

MCD की स्थापना कब हुई थी?

एमसीडी की स्थापना 7 अप्रैल 1958 को हुई थी और यह संसद के अधिनियम के तहत संगठित की गई।

अगर हम इसके इतिहास के बारे में जाने तो पहले दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत सबसे घनी आबादी वाले क्षेत्र आते थे। लेकिन 2012 में एमसीडी को तीन क्षेत्रों में बांट दिया गया जोकि उत्तरी दिल्ली नगर निगम, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के नाम से जाने जाते हैं। 

इन क्षेत्रों के अंदर एमसीडी को बारह क्षेत्रो में बांटा गया है जिसमें करोल बाग, पीतमपुरा, सदर, पहाड़गंज, नरेला, सिविल लाइन, रोहिणी, केशव पुरम, मध्य दिल्ली, दक्षिण दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, नजफगढ़ और शाहदरा शामिल है।

लेकिन अब दिल्ली के तीनों निगमों को एक करने के लिए एक नई योजना तैयार की जा रही है जिसके लिए बिल तैयार कर दिया गया है और मोदी कैबिनेट ने इस बिल पर अपनी मुहर भी लगा दी है। यह कहा जा रहा है कि आने वाले हफ्ते में इस बिल को संसद में पेश किया जाएगा और इस बिल के पास होते ही दिल्ली में जो तीन अलग-अलग निकाय है वह एक हो जाएंगे। 

अर्थात उत्तरी नगर निगम, दक्षिणी नगर निगम और पूर्वी नगर निगम को मिलाकर एक नगर निगम तैयार किया जाएगा। इस योजना के तहत कार्य करने हेतु एमसीडी चुनाव की तारीखों में भी काफी बदलाव हुआ है और चुनाव की तारीख भी अभी तक जारी नहीं की गई है।

यहां यह भी कहा जा रहा है कि दिल्ली नगर निगम के निर्माण के लिए मेयर इन काउंसिल की व्यवस्था अपनाई जाएगी, जिसमें मेयर और उसके कर्मचारी सीधे शहर के लोगों द्वारा चुने जाएंगे। और इसकी वैल्यू सीएम से भी ज्यादा होगी क्योंकि जहां सीएम विधानसभा से विधायक के तौर पर चुना जाता है वहीं मेयर और उनके पार्षदों को सीधे जनता द्वारा चुना जाएगा। 

एमसीडी के निर्माण के इस मामले में बहुत सारे तथ्य सामने आये हैं और इसका उद्देश्य भी रखा गया है कि इससे वित्तीय संकट दूर होगा। साथ ही एक बेहतर और मजबूत नगर निगम के लिए एमसीडी का एकीकरण बहुत जरूरी है।

MCD के कार्य क्या हैं? (Work of MCD in Hindi)

एमसीडी के बारे में इतनी जानकारी हासिल करने के बाद आप में से ज्यादातर लोगों के मन में एक सवाल जरूर आया होगा कि आखिर एमसीडी का क्या कार्य होता है? तो अगर आपके मन में भी कुछ ऐसा सवाल है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस पॉइंट के अंदर हमने आपको एमसीडी के कुछ मुख्य कार्य पॉइंट वाइज बताएं हैं हमने एक-एक पॉइंट करके हर एक कार्य को अच्छे से आपको बताया है। 

  1. MCD दिल्ली सरकार का एक महत्वपूर्ण निकाय है जो 9 जिलों पर नियन्त्रण रखने का कार्य करता है।
  2. MCD को बहुत सारी व्यवस्थाओं को संभालने की जिम्मेदारी दी गई है।
  3. एमसीडी का कार्य सार्वजनिक स्थानों का देखरेख करना और विकास करना है।
  4. एमसीडी के अंतर्गत परिवहन सेवा, स्वच्छता सुविधाएं आदि दी जाती है।
  5. एमसीडी स्कूल और कॉलेज का संचालन भी करता है और स्वास्थ्य से संबंधित सभी सुविधाएं उपलब्ध कराता है।
  6. इसके अलावा एमसीडी टाउन प्लैनिंग, जनता से कर वसूलना आदि कार्य भी करता है और भी कई सुविधाएं और कामकाज एमसीडी को करने पड़ते है।

MCD से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)

MCD का फुल फॉर्म क्या है?

MCD का फुल फॉर्म मुंसिपल कॉरपोरेशन ऑफ दिल्ली होता है, जिसे हिंदी में दिल्ली नगर निगम कहते हैं।

दिल्ली में एमसीडी में किसकी सरकार है?

वर्तमान में दिल्ली में एमसीडी के तीनो नगर निगम में भारतीय जनता पार्टी की सरकार हैं।

भारत में सबसे बड़ा नगर निगम कौन सा है?

महाराष्ट्र में मुंबई शहर का बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) भारत का सबसे बड़ा और अमीर नगर निगम है।

निष्कर्ष – MCD Full Form in Hindi

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको MCD ka full form क्या है, MCD full form in Hindi क्या होता है, एमसीडी की स्थापना कब हुई और MCD के कार्य क्या हैं इसकी सम्पूर्ण जानकारी दी है।

पोस्ट से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स के द्वारा पूछ सकते हैं, हम जल्द से जल्द आपके कोमेंट का जवाब देने की कोशिश करेंगे।

अगर पोस्ट से आपको कुछ हेल्प मिली तो बाकी लोगो के साथ शेयर करके उनको भी MCD की सही जानकारी दें।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Comment

Share via
Copy link