LDC Ka Full Form क्या है? | LDC Full Form in Hindi

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको एलडीसी क्या है, LDC ka full form क्या होता है (LDC full form in Hindi), एलडीसी कैसे बनें, एलडीसी की योग्यता और वेतन क्या हैं एलडीसी से जुड़ी और भी अधिक जानकारी दी है। 

हमारे देश में सरकार द्वारा बनाए गए बहुत से संगठन है जिनके अन्तर्गत बहुत सारे पद भर्ती के लिए निकाले जाते है और आज हम एक ऐसे ही संगठन की सम्पूर्ण जानकारी लेकर आए है जिसका नाम है LDC.

बहुत कम लोग इस पद के बारे मे जानते है और अक्सर इससे सम्बंधित जानकारी की तलाश करते रहते हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी है जो LDC मे भर्ती होना चाहते है लेकिन उन्हें इसकी चयन प्रकिया की कोई जानकारी नहीं होती। 

इसके अलावा बहुत लोग LDC का फुल फॉर्म (LDC Ka Full Form) भी नहीं जानते और इन्ही समस्याओ को देखते हुए आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको सारी जानकारी देने के लिए हाजिर हैं।

तो चले सबसे पहले शुरुआत करते हैं एलडीसी की फुल फॉर्म से।

LDC Ka Full Form क्या है? (LDC Full Form in Hindi)

LDC ka full form

यदि आपने LDC का नाम पहले सुना है तो आपको ये जानने की उत्सुकता जरूर होगी कि इसका फुल फॉर्म क्या है और अगर आपको अभी तक इसका जवाब नहीं मिला है तो चलिए हम आपको बताते है कि LDC Ka Full Form क्या है।

LDC का फुल फॉर्म Lower Division Clerk है जिसे हिंदी में अवर श्रेणी लिपिक कहा जाता है।

L: Lower (अवर)

D: Division (श्रेणी)

C: Clerk (लिपिक)

अब सवाल उठता है कि एलडीसी (LDC) आखिर होता क्या है और इसके कार्य क्या होते हैं? तो इसकी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको इस पोस्ट को आखिर तक पढ़ना होगा।

चले सबसे पहले जानते हैं कि एलडीसी होता क्या है।

LDC क्या है?

एलडीसी यानि लोवर डिविजन क्लर्क जो कि भारत सरकार के कार्यालय में एक क्लर्क पद है। अगर हम सीधे शब्दों में इसकी परिभाषा आपको बताएं तो एलडीसी (LDC) हमारे भारत सरकार द्वारा बनाया गया एक ऐसा सरकारी संगठन है जिसके अंतर्गत अलग-अलग डिपार्टमेंट के लिए जॉब वैकेंसी निकाली जाती है जो परीक्षा के माध्यम से योग्यता के अनुसार उम्मीदवारों का चयन करती है। 

इस संगठन के अंतर्गत जॉब में योग्यता के अनुसार उम्मीदवार को जॉब के लिए वर्गीकृत किया जाता है, जिसके लिए प्रति वर्ष परीक्षा आयोजित होती है और काफी संख्या में लोग इस परीक्षा में प्रतिभागी बनते हैं जिसमें पास होने के बाद उम्मीदवार को क्लर्क के पद पर नियुक्त कर लिया जाता है।

इस पद में प्रथम व तृतीय श्रेणी के रूप में कर्मचारियों को नियुक्त किया जाता है जो उनकी योग्यता के माध्यम से चयनित होते हैं। इसके अंतर्गत बहुत सारे डिपार्टमेंट शामिल है जैसे कि शिक्षण संस्थान, बैंकिंग विभाग, पुलिस विभाग आदि।

अब आप यह तो समझ गए कि एलडीसी (LDC) क्या होता है लेकिन क्या आपको पता है कि एलडीसी बनने की प्रक्रिया क्या है? यदि नहीं तो आइए जानते हैं कि एलडीसी बनने के लिए क्या करना होता है।

LDC कैसे बनें?

एलडीसी बनने के लिए सबसे पहले यह जरूरी है कि आप इसकी परीक्षा के पैटर्न को समझें और यह जाने कि इसकी तैयारी कैसे करनी है। आइए जानते हैं कि एलडीसी के अंतर्गत किस तरह चयन प्रक्रिया पूरी होती है।

एलडीसी परीक्षा तीन चरणों में पूर्ण की जाती है और वो तीन चरण हैं:-

  • लिखित परीक्षा 
  • कंप्यूटर टाइपिंग और 
  • इंटरव्यू

लिखित परीक्षा के अंतर्गत चार विषय को शामिल किया गया है:-

  • General Intelligence
  • English Language
  • Numerical Ability
  • General Awareness

इन चारों विषयो से संबंधित 50- 50 सवाल लिखित परीक्षा के अंतर्गत पूछे जाते हैं अर्थात टोटल 200 प्रश्न इस लिखित परीक्षा में पूछे जाते हैं जिनके कुल अंक 200 होते हैं और यह परीक्षा 2 घंटे की होती है।

जब उम्मीदवार लिखित परीक्षा को उत्तीर्ण कर लेता है तो इसके बाद उम्मीदवार के कंप्यूटर टाइपिंग का टेस्ट लिया जाता है। कंप्यूटर टाइपिंग टेस्ट के अंतर्गत उम्मीदवार को इंग्लिश में 1 मिनट में 35 वर्ड टाइप करने होते हैं और हिंदी में 1 मिनट में 30 वर्ड टाइप करने होते हैं। जब कैंडिडेट इस चरण को पार कर लेता है तो उसे इंटरव्यू अर्थात साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है।

इंटरव्यू मे उनकी मानसिकता का टेस्ट लिया जाता है। साक्षात्कार वाले चरण को क्लियर करने के पश्चात केंद्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा कैंडिडेट को संबंधित डिपार्टमेंट के अंतर्गत कार्य करने के लिए नियुक्त कर लिया जाता है।

इस तरह उम्मीदवार एलडीसी संगठन के अंतर्गत कार्य कर सकता है। यदि आप भी इस संगठन के लिए कार्य करना चाहते हैं तो आपको प्रतिदिन 5 से 6 घंटे की पढ़ाई अवश्य करनी चाहिए। साथ ही आपको अपनी टाइपिंग स्पीड को भी प्रेक्टिस करके बढ़ाना चाहिए।

इस परीक्षा के लिए निर्धारित की गयी योग्यताओं को देखते हुए आप इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

LDC परीक्षा के लिए योग्यता?

एलडीसी परीक्षा के लिए आपको इनकी योग्यता का पालन करना होगा अर्थात यदि इनके द्वारा निर्धारित योग्यता आपके अंदर है तो आप इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

आइए जानते हैं कि एलडीसी परीक्षा के मापदंड कौन-कौन से हैं:-

  • सबसे पहले तो आपको किसी मान्यता प्राप्त विद्यालय से किसी भी विषय में 12th तक की पढ़ाई पूरी करनी होगी और अच्छे अंको से उत्तीर्ण होना होगा।
  • LDC परीक्षा के लिए आवेदन देने के लिए उम्र सीमा का विशेष ध्यान देना चाहिए जिसमें उम्मीदवार की आयु 18 से 28 वर्ष तय की गई है जिसमें SC/ST वर्ग वाले उम्मीदवार को 5 साल की छूट देना तय है और OBC कैटेगरी वाले उम्मीदवार को 3 साल की छूट दी गई है।
  • LDC परीक्षा के लिए आवेदन देने वाले उम्मीदवार यदि हैंडीकैप है तो उन्हें विशेष छूट दी जाती है जैसे कि OBC हैंडीकैप उम्मीदवार को 10 साल की छूट मिलती है वही SC / ST कैटेगरी वाले उम्मीदवार को 13 साल की छूट मिलती है।
  • एलडीसी (LDC) परीक्षा के प्रत्येक चरण को पार करने के पश्चात आपको आपकी योग्यता के अनुसार संबंधित डिपार्टमेंट के अंतर्गत नियुक्त किया जाता है।

LDC का काम क्या होता है?

एलडीसी संगठन के अंतर्गत अगर आप कार्य करना चाहते हैं तो आपको बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य यहां करने होंगे। यहां आपकी कंप्यूटर टाइपिंग की नॉलेज के बारे में पूछा जाता है जिससे आप यह समझ सकते हैं कि यहां ज्यादातर काम टाइपिंग से संबंधित ही होता है।

एलडीसी लोअर डिविजन क्लर्क एक ऐसी जॉब है जिसके अंतर्गत आपको निम्नलिखित चीज़े करनी होंगी:-

  • सारी जरूरी फाइलों का रख रखाव करना होता है।
  • इसके साथ ही आपके वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा दिया जाने वाला आवश्यक कार्य भी आपको पूरा करना होगा जिसमें टाइपिंग वर्क से संबंधित कार्य हो सकते हैं।
  • यहाँ आपको डाटा एंट्री का कार्य भी करना पड़ता है।

LDC का वेतन?

यदि आप एलडीसी परीक्षा के अंतर्गत आवेदन करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके मन में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि एलडीसी के अंतर्गत कार्य करके आपको कितना वेतन प्राप्त होगा।

आइए हम आपको बताते हैं कि वेतन के रूप में यहां आपको कौन-कौन से लाभ मिलते हैं:-

  • यदि आप LCD के अंतर्गत कार्य करने के लिए नियुक्त हो जाते है तो आपको डिपार्टमेंट के अनुसार 9200 रुपये से 20201 रुपये तक का वेतन मिलता है।
  • इसके साथ ही यहाँ कार्य करके आप 1900 रुपये की ग्रेड पे भी प्राप्त होती है।
  • यहाँ आपको कई प्रकार के भत्ते भी दिए जाते हैं जैसे मकान किराया भत्ता, महंगाई भत्ता आदि।
  • यहाँ सबसे अच्छी बात यह है कि आपके आवास के अनुसार आपको भत्ता प्रदान किया जाता है अर्थात आप किस शहर में रहते हैं, किस जगह पर रहते हैं, इन सभी बातों को ध्यान में रखकर आपको भत्ता दिया जाता है।
  • इस तरह आपकी सैलरी और भत्ते को मिलाकर आपकी कुल सैलरी 21000 रुपये से 25000 रुपये तक प्रति माह हो जाती है।

इस तरह के कई लाभ आपको एलडीसी संगठन के अंतर्गत कार्य करने पर मिलते हैं।

 LDC से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)

एलडीसी में क्या काम होता है?

एलडीसी अर्थात Lower Division Clerk एक सरकारी पद है, जो की विभिन्न तरह के कार्य संभालता है जैसे की टाइपिंग, डाटा एंट्री या फिर वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा दिया जाने वाला आवश्यक कार्य।

एलडीसी में क्या योग्यता है?

एलडीसी बनने के लिए आपको सबसे पहले मान्यता प्राप्त स्कूल से 12th पास करनी होगी, उसके बाद कंप्यूटर कोर्स में डिप्लोमा लेना होगा और फिर आप एलडीसी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

एलडीसी कितने साल की होती है?

एलडीसी एक पद है जिसके लिए उम्मीदवार की आयु 18 से 28 वर्ष तय की गई है, जिसमें SC/ST वर्ग वाले उम्मीदवार को 5 साल की छूट और OBC कैटेगरी वाले उम्मीदवार को 3 साल की छूट दी गई है।

एलडीसी में इंटरव्यू होता है क्या?

जी हाँ, एलडीसी में इंटरव्यू होता है, जो की लिखित परीक्षा और कंप्यूटर टाइपिंग टेस्ट के बाद होता है।

निष्कर्ष – LDC Full Form in Hindi

दोस्तों, उम्मीद करते हैं आपको पोस्ट पसंद आई होगी इस पोस्ट में हमने आपको LDC ka full form क्या होता है, LDC full form in Hindi क्या है, एलडीसी कैसे बनें, एलडीसी से जुड़ी और भी अधिक जानकारी दी है।

अगर आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, हम जल्द से जल्द आपके कमेंट का रिप्लाई देने की कोशिश करेंगे। बाकी आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करके दुसरे लोगो को भी इस पद की जानकारी दे सकते हैं। 

अन्य पढ़ें

Leave a Comment

Share via
Copy link