JCO Full Form in Army | JCO का फुल फॉर्म क्या है?

आज इस पोस्ट में आपको JCO के बारे में जानकारी प्राप्त होगी जेसीओ क्या है, जेसीओ का फुल फॉर्म क्या होता है (JCO full form in Army), जेसीओ के कार्य क्या हैं सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़ें।

भारतीय सेना के अंतर्गत ऐसे कई सारे पद हैं जिनके लिए समय-समय पर भर्ती निकाली जाती है आज हम आपको भारतीय सेना के एक ऐसे ही पद की जानकारी देने वाले हैं जिसकी चर्चा काफी ज्यादा होने लगी है जिसका नाम है- जेसीओ (JCO)।

क्या आपने जेसीओ (JCO) के बारे में पहले कभी सुना है?

यदि आप जेसीओ (JCO) पद के बारे में नहीं जानते हैं और यह जानना चाहते हैं कि इससे जुड़ी जानकारी क्या है तो आप बिल्कुल सही जगह पहुंच चुके हैं।

हम आपको बताने वाले हैं जेसीओ (JCO) की संपूर्ण जानकारी जहां आप जानेंगे जेसीओ फुल फॉर्म इन आर्मी (JCO Full Form In Army) क्या है और जे सी ओ (JCO) के कार्य क्या होते हैं।

यदि आप इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकती है इसलिए इस पोस्ट को आखिर तक जरूर पढ़ें, तो चलिए सबसे पहले यह जानते हैं कि जेसीओ फुल फॉर्म (JCO Full Form) क्या है।

JCO Full Form in Army (JCO Ka Full Form)

जेसीओ (JCO) भारतीय सेना में भर्ती के लिए निकाला गया एक पद है यदि आप आर्मी के इस पद के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो आवेदन देने से पहले आपके पास इसकी संपूर्ण जानकारी होना आवश्यक है और यह जरूरी है कि आपको जे सी ओ का फुल फॉर्म पता हो।

तो आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि जेसीओ का फुल फॉर्म जूनियर कमीशंड ऑफिसर होता है, आइए इसकी पूरी डिटेल जानते हैं।

JCO Full Form in Hindi

जेसीओ का फुल फॉर्म जूनियर कमीशंड ऑफिसर (Junior Commissioned Officer) होता है, जिसे हिंदी में जूनियर कमीशन अधिकारी कहा जाता है। इसके नाम से आप समझ सकते हैं कि यह किस तरह का रैंक पोस्ट है।

आइए जानते हैं की जेसीओ (JCO) फुल फॉर्म इन इंग्लिश (JCO Full Form In English) क्या है, यदि आप जेसीओ के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं तो आपको इस पोस्ट को आखिर तक पढ़ना होगा, क्योंकि आगे हम बताने वाले हैं जेसीओ क्या होता है और इसके अंतर्गत कौन-कौन से कार्य किए जाते हैं।

JCO Full Form in English 

जेसीओ (JCO) का फुल फॉर्म जूनियर कमीशंड ऑफिसर होता है, जिसे हिंदी में जूनियर कमीशन अधिकारी कहा जाता है इसकी पूरी डिटेल कुछ इस प्रकार है:-

J: Junior ( जूनियर)

C: Commissioned (कमीशन)

O: Officer (अधिकारी)

अब आप यह तो समझ गए होंगे कि जे सी ओ का फुल फॉर्म क्या है लेकिन अब बड़ा सवाल यह है कि जेसीओ फुल फॉर्म इन आर्मी का क्या रोल है तो चलिए इसे समझने के लिए जानते हैं कि जेसीओ क्या होता है।

JCO क्या होता है?

जेसीओ (JCO) का पूरा नाम जूनियर कमीशंड ऑफिसर है जो भारतीय सेना के अंतर्गत निकाला गया एक पद होता है जिसके लिए अगर आप चाहें तो अप्लाई कर सकते हैं।

यह एक रैंक पोस्ट है जिसका रैंक एक हवलदार से ऊपर और लेफ्टिनेंट से नीचे होता है। सीधे शब्दों में यह सेना का ही एक रैंक है जो कार्य करने वाले लोगों के समूह का ग्रुप होता है।

आइए इसे और डिटेल में समझने की कोशिश करते हैं।

भारतीय सेना के रैंक पोस्ट जेसीओ का इस्तेमाल भारत और पाकिस्तान तथा बांग्लादेश के द्वारा किया जाता है। जिसमें वरिष्ठ हवलदारों को उनकी शैक्षणिक योग्यता के अनुसार जेसीओ के रैंक पर पोस्ट किया जाता है।

आपने जरूर सुना होगा कि भारतीय सेना द्वारा कितने सारे पदों पर जूनियर कमीशंड ऑफिसर की भर्ती निकाली गई है यदि आप चाहें तो इसके अंतर्गत आसानी से आवेदन करके आर्मी में अपना करियर बना सकते हैं। जेसीओ एक ऐसा पद है जिन्हें विशेष अधिकार प्रदान किए गए हैं।

JCO रैंक केवल बांग्लादेश, भारत और पाकिस्तान के सेना में रैंक होता है लेकिन इसमें कैरियर बनाना इतना आसान नहीं होता। इसके लिए आपके अंतर्गत शैक्षणिक योग्यता होनी चाहिए और इसकी चयन प्रक्रिया पूरी करने के पश्चात ही आप इस पद को प्राप्त कर सकते हैं।

यह एक ऐसा पद है जहां आप आसानी से अच्छी खासी सैलरी प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप इस पद के लिए नियुक्त कर लिए जाते हैं और आपको 10 से 31 साल का अनुभव हो जाता है तो भारत में औसत भारतीय सेना द्वारा आप को जेसीओ वेतन के रूप में 6.1 लाख रुपए दिए जाते हैं। भारतीय सेना के अंतर्गत जेसीओ का वेतन डेढ़ लाख से 9 लाख रुपये के बीच निर्धारित है।

आइए अब जानते हैं कि जेसीओ के अंतर्गत किन-किन कार्यों के लिए नियुक्ति की जाती है जिसे पढ़ने के बाद आप अपने अनुसार किसी भी पद के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

JCO के कार्य?

जेसीओ के अंतर्गत कई कार्यों के लिए नियुक्ति की जाती है लेकिन इसके शैक्षणिक योग्यता का पालन करके यदि आप इन कार्यों के लिए आवेदन देना चाहते हैं तो आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 12वीं तक की पढ़ाई पूरी करनी होगी और इसके अलावा आपको हर कार्य के लिए अलग-अलग शैक्षणिक योग्यता का पालन करना होगा आइए एक-एक करके इनके बारे में जानते हैं।

जूनियर कमीशन ऑफिसर कैटरिंग:-

यदि आप इस कार्य को करना चाहते है तो आपको फूड क्राफ्ट इंस्टीट्यूट से कुकरी, होटल मैनेजमेंट और कैटरिंग टेक में एक साल या उससे अधिक समय का डिप्लोमा करना होगा। 

जूनियर कमीशन अधिकारी धार्मिक शिक्षक:-

यदि आप इस पद के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो इस पद की नियुक्ति के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त करना है। जिसके बाद आप गोरखा रेजिमेंट के लिए पंडित, ग्रंथि और लद्दाख स्काउट के लिए मौलवी आदि के कार्य कर सकते है जिसके लिए आपको दिशा निर्देश के अनुसार शैक्षणिक योग्यता के आधार पर नियुक्त किया जाता है।

जैसा कि आपने जाना कि वरिष्ठ हवलदारों को उनकी योग्यता और वरिष्ठता के आधार पर जूनियर कमीशन ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया जाता है। तो इस पद की नियुक्ति के लिए आपको यूपीएससी द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा को क्लियर करना होगा जो लिखित रूप में होती है और इसके पश्चात डेढ़ साल की ट्रेनिंग के बाद आप इस पद के लिए नियुक्त किए जाते हैं।

जेसीओ (JCO) आपके लिए एक अच्छा करियर विकल्प बन सकता है जहां आप अलग-अलग कार्यों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

JCO से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)

आर्मी में JCO कौन है

आर्मी में JCO का मतलब Junior Commissioned Officer होता है, जिसे हिंदी भाषा में जूनियर कमीशन अधिकारी कहा जाता है। यह एक रैंक पोस्ट होता है जिसका रैंक एक हवलदार से ऊपर और लेफ्टिनेंट से नीचे होता है।

भारतीय सेना में जेसीओ कैसे बने?

भारतीय सेना में जेसीओ बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी और उसके बाद कार्य अनुसार शैक्षणिक योग्यता को पूरा करना होगा।

निष्कर्ष – JCO Meaning in Army

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको जेसीओ क्या है, JCO full form in Army क्या होता है, JCO के कार्य क्या हैं इसकी सम्पूर्ण जानकारी दी है। अगर आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

पोस्ट से हेल्प मिली तो सोशल मीडिया पर शेयर करके दुसरे स्टूडेंट्स को भी इसकी जानकारी जरुर दें।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Comment

Share via
Copy link