ECCE Ka Full Form क्या है? | ECCE Full Form in Hindi

ईसीसीई (ECCE) क्या है? ECCE Full Form in Hindi क्या होता है? ECCE Ka Full Form क्या है? जैसे सारे सवालों के जवाब आज यहाँ आपको मिलने वाले है।

बच्चों के विकास के लिए ऐसी कई संस्थाएं हैं जो सक्रिय रूप से कार्य कर रही है ताकि उन्हें बेहतर विकास और शिक्षा का अवसर प्राप्त हो सके। इसी प्रकार का एक कार्यक्रम है – ईसीसीई (ECCE) जो बच्चों के प्राथमिक विकास के अंतर्गत कार्य करती है। 

साथ ही इससे संबंधित बहुत सारी जानकारियां इस लेख के अंतर्गत प्रदान की जा रही है इसलिए हमारे साथ आखिर तक जुड़े रहें।

ECCE Ka Full Form क्या है? (ECCE Full Form in Hindi)

ECCE Ka Full Form

आपने पहले ईसीसीई (ECCE) का नाम जरूर सुना होगा क्योंकि यह काफी लंबे समय से बच्चों के विकास के लिए कार्य कर रही है, लेकिन अगर आपने इसके बारे में पहले नहीं सुना और जानना चाहते हैं कि ईसीसीई का फुल फॉर्म क्या होता है तो आइए इसका जवाब हम आपको देते हैं।

ECCE का फुल फॉर्म अर्ली चाइल्ड केयर एंड एजुकेशन (Early Childhood Care And Education) है, ईसीसीई को हिंदी में पूर्व बाल्यावस्था देखभाल एवं शिक्षा कहा जाता है।

ECCE Full Form in English

E – Early

C – Childhood

C – Care And

E – Education

ECCE से जुड़ी बहुत सारी जानकारियां हैं जिन्हें जानना आवश्यक है इसलिए हम आपके लिए इससे जुड़ी सारी जानकारियां लेकर आए हैं, तो चलिए अब जानते हैं कि ईसीसी होता क्या है।

ECCE क्या होता है?

ईसीसी अर्थात पूर्व बाल्यावस्था देखभाल एवं शिक्षा एक ऐसी नीति है जो बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य करती है।

यह जानना जरूरी है कि बच्चों का मानसिक और शारीरिक विकास करने के लिए शिक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसी को ध्यान में रखते हुए ईसीसीई के अंतर्गत 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों के बेहतर शिक्षा और देखभाल के लिए यह एक नीति बनाई गई है जिसके अंतर्गत शिक्षा को प्राथमिकता देते हुए 3 वर्ष की प्रारंभिक शिक्षा और 2 वर्ष की प्राथमिक शिक्षा पर बल दिया गया है।

बच्चों के मस्तिष्क का विकास 6 वर्ष की आयु तक हो जाता है जिसे देखते हुए ईसीसीई ने शिक्षा को महत्व देते हुए अच्छे पोषण और स्वास्थ्य के साथ-साथ बच्चों के समग्र विकास को भी महत्वपूर्ण स्थान दिया है।

आप ये कह सकते है कि प्रारंभिक शिक्षा के जरिये बच्चों को समाज की पहचान कराते हुए उनका सही विकास करना ही ECCE का उद्देश्य है।

ECCE का गठन कब हुआ था?

ईसीसीई का गठन 2 अक्टूबर 1975 को हुआ था जो कि बाल्यावस्था मे बच्चों को सही पोषण, अच्छा खाना, अच्छा स्वास्थ्य के साथ ही प्रारंभिक शिक्षा को महत्व देती है। इसके अंतर्गत 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों को शामिल किया गया है जिसके सामाजिक और व्यव्हारिक विकास के अंतर्गत कार्य किया जा रहा है।

बाल विकास की यह नीति शुरुआत से ही बच्चों के मस्तिष्क के सही विकास पर कार्य करने का प्रयास करती है, जिसका असर अलग-अलग क्षेत्रो मे देखा जा सकता है।

ECCE से कई सारी संस्थाएं जुड़ी है जो बच्चों के बेहतर विकास के लिए कार्य कर रही है आइये इनके बारे मे भी कुछ आवश्यक जानकारिया आपको देते है।

ECCE से जुड़े महत्वपूर्ण संस्था एवं क्रियाकलाप?

ECCE से जुड़ी कुछ संस्थाएं निम्नलिखित है:-

  • आंगनबाड़ी
  • प्ले स्कूल
  • बालवाडी
  • टीकाकरण योजना से जुड़ी संस्थाएं
  • पोषण विभाग 
  • स्वास्थ्य विभाग

इन संस्थाओ द्वारा कई क्षेत्रो मे आवश्यक कार्य किये जा रहे है जिनसे बच्चों का बेहतर समग्र विकास हो सके जैसे कि:-

शारीरिक शिक्षा:  इसके अंतर्गत बच्चों की मांसपेशियों के विकास पर कार्य किया जाता है अर्थात उन्हें चलने, दौड़ने, उछ्लने, लिखने आदि क्रियाकलापों के जरिये तैयार किया जाता है।

बौद्धिक विकास:  बच्चों के बेहतर मानसिक विकास के लिए कार्य करना बौद्धिक विकास के अंतर्गत आता है।

भाषा का विकास: बच्चों को अक्षरों और शब्दों का ज्ञान देकर भाषा का विकास करना इस क्षेत्र के अंदर आता है।

सामाजिक एवं भावनात्मक विकास: इस क्षेत्र मे बच्चों को सही वातावरण से परिचय कराया जाता है और भावनात्मक विकास के लिए जरूरी क्रियाकलाप कराए जाते है।

रचनात्मक विकास:  इस क्षेत्र के अंतर्गत बच्चों को नई चीज़ों के बारे मे बताया जाता है और नई चीज़े बनाना सिखाया जाता है ताकि उनका मस्तिष्क क्रिएटिव बन सके।

इस तरह के क्रियाकलापों द्वारा बच्चों का बेहतर विकास किया जाता है।

ECCE के अंतर्गत कुछ नीतियाँ भी बनाई गई है जिसके लिए कई सारे प्रावधान जारी किये गए है और हर क्षेत्र मे इनकी स्थिति काफी बेहतर हुई है।

ECCE के क्रियाकलापों मे राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 के अंतर्गत ही 5 साल की प्रारंभिक शिक्षा की योजना बनाई गई थी जिसमें आंगनवाडी, प्री स्कूल आदि को शामिल किया गया। वहीं उत्तर प्रदेश मे बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग ICDS के अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्र मे ECCE के अंतर्गत प्रारंभिक शिक्षा का सन्चालन किया जा रहा है।

इस तरह ECCE कई क्षेत्रो मे बच्चों के विकास के लिए कार्य कर रही है और इसके बेहतर परिणाम भी दिखाई दे रहे है।

ECCE के अन्य फुल फॉर्म

ECCEEuropean Counseling Of Civil Engineers
ECCEEffective Calcium Carbonate Equivalent
ECCEExploring Church Careers Event
ECCEExecutive Comedy Of The Communist International
ECCEEmeritus Certificate Cost Engineer
ECCEExtensible Computational Chemistry Environment
ECCEExamination For The Certificate For Competency In English

ECCE से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)

शिक्षा में Ecce क्या है?

ECCE अर्थात अर्ली चाइल्ड केयर एंड एजुकेशन एक ऐसी नीति है जो बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य करती है। जैसे की बच्चों को अच्छा स्वास्थ्य, सही पोषण, अच्छा खाना और प्रारंभिक शिक्षा को महत्व देना।

ईसीसीई का उद्देश्य क्या है?

ईसीसीई का उद्देश्य है बच्चों का बेहतर समग्र विकास जैसे की शारीरिक शिक्षा, बौद्धिक विकास, रचनात्मक विकास, भाषा का विकास, सामाजिक एवं भावनात्मक विकास।

Ecce का मतलब क्या होता है?

Ecce का मतलब Early Childhood Care And Education होता है।

निष्कर्ष – What is ECCE Full Form in Hindi

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको ईसीसी क्या है, ECCE ka full form क्या होता है, What is ECCE full form in Hindi, ईसीसी का गठन कब हुआ, ईसीसी से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी दी है। पोस्ट हेल्पफुल लगी तो सोशल मीडिया पर शेयर करके बाकी लोगो को इसकी जानकारी जरुर दें।

अगर आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं, हम जल्द से जल्द आपके कमेंट का जवाब देने की कोशिश करेंगे।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Comment

Share via
Copy link