EBC Full Form in Hindi & English | ईबीसी का फुल फॉर्म क्या है?

आज के इस पोस्ट में हम आपको ई बी सी फुल फॉर्म इन हिंदी (EBC Full Form in Hindi) के बारे में तो बताएंगे ही साथ ही आपको यह भी पता चलेगा कि ईबीसी के जरिए कौन-कौन से लाभ नागरिकों तक पहुंचाए जाते हैं।

आपने कभी ना कभी ईबीसी (EBC) के बारे में जरूर सुना होगा क्योंकि यह आजकल काफी ज्यादा चलन में है और कहीं ना कहीं ईबीसी (EBC) के बारे में लोग बातचीत करना शुरू कर ही देते हैं, क्या ईबीसी (EBC) का नाम सुनकर आपके मन में भी सवाल आते हैं? जैसे कि ईबीसी क्या है? ई बी सी फुल फॉर्म इन हिंदी (EBC Full Form In Hindi) क्या होता है? आदि।

यदि हां, तो यहां आपको इसका जवाब मिलने वाला है। ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें ईबीसी के बारे में जानकारी नहीं है और इस कारण वह इससे मिलने वाले लाभ का फायदा नहीं उठा पाते हैं। यदि आप भी उनमें से एक हैं तो अब आपको ईबीसी (EBC) के बारे में संपूर्ण जानकारी मिलने वाली है।

आपको यह जानकारी जरूर होनी चाहिए क्योंकि इसके बाद आप ईबीसी से मिलने वाले लाभों का फायदा उठा सकेंगे, क्योंकि आप भारतीय नागरिक हैं इसलिए आपको इससे संबंधित हर एक क्षेत्र की जानकारी अवश्य होनी चाहिए। 

तो चलिए आज का यह पोस्ट शुरू करते हैं और सबसे पहले यह जानते हैं कि ईबीसी का फुल फॉर्म क्या होता है, ताकि EBC से जुड़े हर तथ्य को और भी आसानी से समझा जा सके।

EBC Full Form in Hindi (ईबीसी का मतलब क्या है?)

EBC Full Form in Hindi

यदि आपने ईबीसी का नाम पहले सुना है तो सबसे पहला सवाल आपके मन में यही आया होगा कि ई बी सी का फुल फॉर्म क्या है? बहुत लोगो को इसके हिंदी और इंग्लिश फुल फॉर्म की जानकारी नही है।

यदि आप भी उनमें से एक हैं और इस साइट पर इस सवाल का जवाब पाने आये हैं तो हम आपको बता दें कि ई बी सी का फुल फॉर्म Economically Backward Class (इकोनॉमिकली बैकवर्ड क्लास) होता है, क्या आपने कभी इस कास्ट के बारे में सुना है? यदि नहीं तो इस पोस्ट को आखिर तक जरूर पढ़े ताकि आप इसके बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकें।

अब आप सोच रहे होंगे कि ईबीसी को हिंदी में क्या कहते हैं? अर्थात ईबीसी का हिंदी फुल फॉर्म क्या है? तो आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि ईबीसी अर्थात इकोनॉमिकली बैकवर्ड क्लास को हिंदी में आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग कहा जाता है।

इसके फुल फॉर्म से आप समझ सकते हैं कि यह भी भारत में पाए जाने वाले अन्य जातियों के समान ही एक वर्ग है लेकिन इसकी विस्तृत जानकारी आपको अगले सेक्शन में मिलेगी, तो चलिए ईबीसी क्या है? यह जानने के लिए हम आगे दी हुई जानकारी को गौर से पढ़ते हैं।

EBC क्या है?

जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे देश में लोग अलग-अलग वर्गों में बटे हुए हैं, कोई ओबीसी वर्ग की श्रेणी में आता है तो कोई एससी और एसटी वर्ग मे।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसी तरह ईबीसी भी एक उप श्रेणी है जिसके अंतर्गत उन परिवारों को शामिल किया गया है जिनकी वार्षिक आय 8,00,000 रुपये से कम है, आप इसके फुल फॉर्म से समझ सकते हैं कि इस श्रेणी मे आर्थिक रूप से पिछड़े हुए वर्ग के लोग होते हैं अर्थात जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होती है।

भारतीय व्यक्तियों की इस उप श्रेणी के अंतर्गत जो भी लोग आते हैं उन्हें सरकार की ओर से कुछ विशेष लाभ भी प्रदान किए जाते हैं जिसके बारे में आपको आगे पता चलेगा, यहां गौर करने वाली बात यह है कि ईबीसी अर्थात आर्थिक रूप से पिछड़ा हुआ वर्ग, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग अर्थात ईडब्ल्यूएस (EWS) से अलग है।

यदि आपको लगता है कि यह दोनों एक ही हैं तो आपको इसके बीच का अंतर समझ लेना चाहिए। यदि बात करें इन दोनों के बीच के अंतर की तो ईडब्ल्यूएस (EWS) को भारत सरकार द्वारा परिभाषित किया गया है लेकिन ईबीसी हर राज्य के अंतर्गत अपनी अलग परिभाषा रखती है, आइए अब ईबीसी वर्ग को मिलने वाले लाभ के बारे में आपको बताते हैं।

ईबीसी प्रमाणपत्र क्या है?

ईबीसी उप श्रेणी में आने वाले लोगों के लिए एक प्रमाण पत्र जारी किया गया है जिसे ईबीसी प्रमाण पत्र कहा जाता है। EBC प्रमाणपत्र उन लोगों के लिए संचालित की जाती है जिनकी वार्षिक आय 8,00,000 रुपए से कम होती है। जो भी भारतीय व्यक्ति इस प्रमाण पत्र को बनाता है उन्हें कई सारे लाभ प्राप्त होते हैं। यहां सीधे शब्दों में आप समझ सकते हैं कि नागरिकों को वित्तीय लाभ प्रदान करने के लिए ईबीसी प्रमाण पत्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है। हालांकि हर राज्य में इससे जुड़े नियम अलग-अलग हो सकते हैं।

जिस व्यक्ति के पास ईबीसी प्रमाणपत्र होता है उसे शैक्षणिक संस्थानों में फीस पर आधी या फिर पूरी छूट प्रदान की जा सकती है। इस तरह के कई लाभ ईबीसी श्रेणी में आने वाले लोगों को प्रदान किए जाते हैं ताकि उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाया जा सके, अब आप सोच रहे होंगे कि ईबीसी प्रमाण पत्र बनवाने के लिए हमें क्या करना होगा? तो इसके लिए आपके अंदर कुछ योग्यताएं होनी चाहिए जो आगे आपको पता चलेंगी।

ईबीसी प्रमाणपत्र प्राप्त करने की पात्रता?

सरकार द्वारा जारी की जाने वाली योजनाओं के लिए कुछ विशेष योग्यताएं भी निर्धारित की जाती हैं और इसके अंतर्गत शामिल होने वाले नागरिकों को ही इसका लाभ मिलता है। इसी तरह ईबीसी प्रमाण पत्र बनाने के लिए भी पात्रता मापदंड तैयार किया गया है। यदि आप इन मानदंडों पर खड़े उतरते हैं तो आप अपना ईबीसी प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं, ईबीसी प्रमाण पत्र प्राप्त करने की पात्रता कुछ इस प्रकार है:-

●       ईबीसी प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करने वाले आवेदक की आय 8,00,000 रुपये से कम होनी चाहिए।

●       आवेदक के पास यदि खुद का फ्लैट है तो वह 1000 वर्ग फुट से अधिक नहीं होना चाहिए।

●       इसके अलावा आवेदक के पास 5 एकड़ से ज्यादा भूमि भी नहीं होनी चाहिए।

EBC के अन्य फुल फॉर्म

EBC full form in MedicalExhaled Breath Condensate 
EBC full form in Banking/CasteEconomically Backward Classes
EBC full form in LawEarly Bird Capital
EBC full form in RailwayEmergency Battery Charger

ईबीसी से जुड़े सवाल जवाब (FAQS)

ईबीसी जाति क्या है?

EBC का मतलब Economically Backward Class होता है, ईबीसी जाति के अंतगर्त वह लोग आते हैं जिनकी वार्षिक आय 8,00,000 से कम होती है और जो लोग आर्थिक रूप से कमज़ोर होते हैं। आपकी जानकारी के लिए बतादें इस जाती का SC, ST या फिर OBC वर्ग से कुछ लेना देना नहीं है।

ईबीसी सर्टिफिकेट का मतलब क्या होता है?

ईबीसी सर्टिफिकेट एक ऐसा सर्टिफिकेट होता है जिसके द्वारा आर्थिक रूप से कमज़ोर व्यक्ति को सरकार की तरफ से कुछ विशेष लाभ प्रदान किये जाते हैं।

निष्कर्ष – EBC Meaning in Hindi

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको ईबीसी की सम्पूर्ण जानकारी साझा की है, EBC क्या है, EBC ka full form, EBC full form in Hindi & English, EBC full form in Caste क्या होता है, ईबीसी प्रमाणपत्र क्या है और इसे प्राप्त करने की योग्यता क्या होती है इन सभी सवालो का जवाब विस्तार से दिया है।

उम्मीद करते हैं यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी और ईबीसी के बारे में काफी कुछ जानने के लिए भी मिला होगा। अगर पोस्ट से सम्बंधित आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं हम जल्द से जल्द आपके कमेंट का रिप्लाई करने को कोशिश करेंगे। बाकी आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर साझा करके और भी लोगो को इसकी जानकारी दे सकते हैं।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Comment

Share via
Copy link